कॉर्पोरेट गठबंधन

भारत सरकार के राष्ट्रीय डिजिटल साक्षरता मिशन तथा डिजिटल इण्डिया अभियान को आगे ले जाते हुए, नाइलिट ने डिजिटल साक्षरता पर संयुक्त रूप से पाठ्यक्रम चलाने तथा ऑनलाइन परीक्षाएँ आयोजित करने और साथ ही इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली डिजाइन एवं विनिर्माण (ईएसडीएम) पर नाइलिट के पाठ्यक्रमों की जाँच करने के लिए इंटेल इण्डिया के साथ एक सहमति-पत्र पर हस्ताक्षर किए। डॉ. अश्विनी कुमार शर्मा, प्रबंध निदेशक, नाइलिट तथा सुश्री देबजानी घोष, प्रबंध निदेशक, इंटेल दक्षिण एशिया ने माननीय संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री एवं कानून और न्याय मंत्री, श्री रवि शंकर प्रसाद की उपस्थिति में स्कोप कन्वेंशन सेंटर, नई दिल्ली में 13 अक्तूबर, 2014 को आयोजित नाइलिट के राष्ट्रीय स्तर की कार्यशाला के दौरान इस सहमति-पत्र पर हस्ताक्षर किए। इंटेल राष्ट्रीय डिजिटल साक्षरता मिशन के अन्तर्गत विद्यार्थियों के मूल्यांकन के लिए सॉफ्टवेयर का विकास करेगा जिससे पाठ्यक्रमों को अधिक उद्योग उन्मुखी बनाया जा सके। इसका प्रयास यह होगा कि भारत के प्रत्येक घर का प्रत्येक सदस्य डिजिटल की दृष्टि से साक्षर हो। श्री रविशंकर प्रसाद ने यह नोट करते हुए खुशी व्यक्त की कि नाइलिट ने ईएसडीएम के क्षेत्र में कुशलता विकास के अपने प्रयासों में बढ़ोतरी की है तथा इसकी क्षमता का लाभ उठाने और प्रशिक्षण तथा सहायता सेवाओं के क्षेत्र में एकरूपता लाने के लिए कई सहमति-पत्रों पर हस्ताक्षर किए हैं।

industrial corner
डॉ. अश्विनी कुमार शर्मा, प्रबंध निदेशक, नाइलिट तथा सुश्री देबजानी घोष, प्रबंध निदेशक, इंटेल दक्षिण एशिया के बीच माननीय संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री एवं कानून और न्याय मंत्री, श्री रवि शंकर प्रसाद की उपस्थिति में सहमति-पत्र पर हस्ताक्षर। चित्र में श्री आर.एस. शर्मा, सचिव, इलेतक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग भी उपस्थित हैं।

NIELIT MOU

नाइलिट ने रोजगार अभ्यर्थियों तथा नियोजकों के बीच अन्तराल को कम करने की दिशा में कदम उठाए हैं। इस उद्देश्य को हासिल करने के लिए, नाइलिट का एक प्लेसमेंट पोर्टल है जिसके माध्यम से नए उत्तीर्ण विद्यार्थियों, कर्मचारियों तथा निय़ोजकों के बीच संचार माध्यम उपलब्ध कराया गया है।

नाइलिट प्लेसमेंट पोर्टल के बारे में

Dr.Ajay कुमार, संयुक्त सचिव के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय भारतीय प्रतिनिधिमंडल, देवता को बढ़ावा देने और इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम डिजाइन के क्षेत्र में सहयोग के संभावित रास्ते पर चर्चा करने के लिए भारत-जापान संयुक्त कार्य समूह की बैठक में भाग लेने के लिए 28-31 अक्टूबर, 2014 से जापान का दौरा किया और विनिर्माण (ESDM)। श्री RKGoyal, संयुक्त सचिव, देवता शामिल प्रतिनिधिमंडल अन्य बातों के साथ के अन्य सदस्य; Dr.Ashwini कुमार शर्मा, प्रबंध निदेशक, राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान और श्री दीपक शर्मा, वैज्ञानिक 'ई', देवता। 1 सितंबर 2014 को श्री शिन्जो अबे, जापान और श्री नरेन्द्र मोदी भारत के माननीय प्रधानमंत्री के माननीय प्रधानमंत्री के बीच जापान-भारत शिखर बैठक के बाद, दोनों प्रधानमंत्रियों ने सार्वजनिक-निजी पहल का स्वागत किया था दोनों देशों के बीच भारत में इलेक्ट्रॉनिक्स औद्योगिक पार्क स्थापित करने के लिए।

     
     
 
 
                   


 
  कौशल विकास योजनाओं के बारे में ई एस एस सी आई प्रशिक्षण साथी पंजीकरण पाठ्यक्रम संपर्क करें
  लक्ष्य और उद्देश्यों एन आई ई एल आई टी प्रशिक्षण भागीदार खोज कॉर्पोरेट गठबंधन प्रतिक्रिया
  दिशा-निर्देशों टी एस एस सी संबद्ध प्रशिक्षण साथी स्थान मानचित्र
  ई-न्यूज़लैटर   पूछे जाने वाले प्रश्न
  सभी हितधारकों के उत्तरदायित्व  
           
           
           
           
Electronics System Design & Manufacturing Feedback Contact FAQ's Feedback Contact Training Partner